Kabzaa Movie Review: सस्ता KGF है कब्जा! नहीं कर पाएगी इंडस्ट्री पर 'कब्जा' - CG संचार

Kabzaa Movie Review: सस्ता KGF है कब्जा! नहीं कर पाएगी इंडस्ट्री पर ‘कब्जा’

kabzaa movie review: उपेंद्र और श्रिया सरन द्वारा अभिनीत कब्ज़ा नाम की पैन इंडिया फिल्म आज बड़े पर्दे पर रिलीज हुई। किच्चा सुदीपा और शिवा राजकुमार ने इस फिल्म में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। मूल रूप से कन्नड़ में फिल्माई गई इस फिल्म को अन्य भारतीय भाषाओं में डब किया गया था।

R Chandru ने इस पीरियड एक्शन फिल्म का निर्देशन किया है लेकिन कई ऑडियन्स रिएक्शन इस फिल्म के लिए अच्छे नहीं आ रहे हैं, इसे kgf कि सस्ती कॉपी बताया जा रहा है। क्या ये kgf कि सस्ती कॉपी है? यह जानने के लिए पढिए पूरा रिव्यू।

फिल्म का नामकब्जा
एक्टर्सउपेंद्र,श्रिया सरन,किच्चा सुदीप
निर्देशकआर चंद्रू
निर्माताआर चंद्रू
रिलीज डेट17 मार्च 2023
Kabzaa Movie Review

Kabzaa Movie Review: कहानी

इस फिल्म में अर्केश्वरा (उपेंद्र), एक भारतीय वायु सेना अधिकारी, एक स्वतंत्रता सेनानी परिवार से है। वह एक समृद्ध परिवार कि लड़की मधुमती (श्रिया सरन) के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रहा है, और दोनों शादी के बंधन में बंधने की योजना बना रहे हैं।

दूसरी ओर, अमरपुरा में हमें खूंखार गैंगस्टरों और राजनेताओं का एक समूह देखने को मिलता है, जो सत्ता के लिए तरस रहे हैं। घटनाओं के एक पूर्ण मोड़ में, अरकेश्वर अपराध की दुनिया में प्रवेश करता है और अंततः इस दुनिया का बेताज बादशाह बन जाता है। उस बदलाव से अर्केश्वरा का जीवन कैसे बदला, यही कहानी का सार है।

फिल्म में उपेंद्र ने बेहतरीन काम किया है तो वहीं श्रिया सरन भी खूबसूरत नजर आई हैं। जबकि मुरली शर्मा और अन्य कलाकारों ने अच्छा काम किया है। किच्चा सुदीप का कैमियो स्टाइलिश है जबकि शिवा राजकुमार का क्लाइमेक्स सीन फिल्म के अगले भाग के प्लॉट की झलक देता है।

फिल्म का एक्शन, बैकग्राउंड स्कोर और सिनेमैटोग्राफी बेहतरीन है। लेकिन स्क्रीनप्ले और कहानी के मामले में फिल्म कमजोर है। खासतौर पर फिल्म के हिंदी डब वर्जन में हिंदी डायलॉग्स में शुद्ध हिंदी शब्दों का इस्तेमाल किया गया है, जो दर्शकों से जुड़ने में नाकाम रहते हैं।

वहीं, कई जगहों पर कहानी भी आपको स्पष्ट नहीं होती है। अगर फिल्म की कहानी थोड़ी और दमदार होती तो केजीएफ की याद दिलाने वाली यह फिल्म ज्यादा दर्शकों को पसंद आ सकती थी।

फिल्म में क्या है खास?

कब्ज़ा में छायांकन बहुत अच्छा है, और बीते युग को बहुत अच्छी तरह से दिखाया गया है। अपनी अनूठी फिल्मों के लिए जाने जाने वाले उपेंद्र ने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया। उनकी स्क्रीन प्ले आश्चर्यजनक है, और उन्होंने इसे आश्चर्यजनक एक्शन अवतार में पूरा किया।

किच्चा सुदीपा और शिवा राजकुमार का कैमियो बड़ी राहत देता है। कलाकार हालांकि बहुत कम समय के लिए दिखाई देते हैं, लेकिन अपनी उपस्थिति का एहसास कराते हैं। एक्शन सीक्वेंस अच्छी तरह से रचे गए हैं, और इंटरवल बैंग ठीक है।

कब्जा
Kabzaa Movie Review

Director: आर चंद्रू

Editor's Rating:
3

Pros

  • छायांकन
  • स्क्रीन प्ले

Cons

  • कमजोर कहानी

अपने दोस्तों से शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *